कैंसर लाइलाज है या नहीं ?

कैंसर (Cancer) लाइलाज है या नहीं ! 

कैंसर (Cancer)लाइलाज है या नहीं यह question आजकल बहुत सारे लोगो के मन में होता है , कैंसर का इलाज बिल्कुल संभव है बसर्ते इसको छेड़ा ना जाए।  छेड़ने से इसका रूप और भी भयानक और विकराल हो जाता है जिसको काबू कर पाना बिलकुल भी ना मुमकिन सा है।  कैंसर को जानने का आपका उतावलापन आपके धन और जीवन दोनों की बर्बादी कर देता है और परिणाम कुछ भी नहीं निकलता है , कैंसर चाहे गाठ के रूप में हो या घाव के रूप में तब तक सुस्त है जब तक छेड़ा नहीं जाता , अगर आपने छेड़ दिया हो समझो आप का जीवन धीमे धीमे खत्म होने लगेगा और आपके हाथ लगेगा एक कागज का टुकड़ा जिसमे लिखा होगा ये ”कार्सीनोमा” है फिर सिलसिला सुरु होने लगता है है धन और जीवन के साथ खिलवाड़ का जिसमे आपके रुपए धीमे धीमे खर्च होने लगते है और आपका जीवन एक गहरे अंधकार की ऒर अग्रसर होने लगता है।  
 
 कैंसर का एक मात्र विकल्प है होम्योपैथिक दवाये आणविक शक्ति , अकाट्य और अटूट शक्ति , जीवन शक्ति , रोग को सम्पूर्ण समाप्त करने की शक्ति , ईश्वरीय शक्ति , जीव और जीवन की रक्षा शक्ति अपार और अखंड शक्ति प्रदान करती है।  आप को जरुरत है क्षमतावान चिकित्सक की।  अगर आप इनमे से किसी स्तर से गुजर रहे है तो मिलिए कैंसर रोग विशेषज्ञ Dr S Pandey से। 
 
  Dr S Pandey को 35 से अधिक वर्षों का अनुभव है। उन्होंने होम्योपैथी दवाओं के माध्यम से कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी से बहुत सारे मरीजों को मुक्त किया  है, अगर सही समय पर कैंसर जैसी भयानक बीमारी का इलाज नहीं कराया जाए , तो इस बीमारी से छुटकारा नहीं पाया जा सकता है।कैंसर को अगर बिलकुल भी छेड़ा न जाए तो इससे निजात पाया जा सकता है लोगो को यही नई पता चल पता है की यह कैंसर है और फिर वह घबरा कर इससे छेड़ छाड़ करते है फिर वह पानी की तरह रुपये बहाते है और परिणाम कुछ भी नहीं निकलता बेहतर यही है की आप इसका समय रहते इसका इलाज करवा ले।
 
 

Dr S Pandey ने न केवल कैंसर जैसी बीमारी से लोगो को निजात दिलाया, बल्कि कई बीमारियों जैसे अस्थमा, त्वचा रोग, पुरानी खांसी, पेट की बीमारी, गुर्दे की पथरी, स्त्री रोग, बाल रोग, गंजापन की बीमारी आदि से भी लोगो को निजात दिलाया है। उन्होंने 40 साल पहले होमियोपैथी का अभ्यास शुरू किया था, अब एक अच्छी तरह से स्थापित सुचारु रूप से अभ्यास में विकसित हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.